मनरेगा योजना में हो रहा मशीनों का प्रयोग, JCB का किया जा रहा उपयोग

 

समस्तीपुर: जिला अंतर्गत कल्याणपुर प्रखंड क्षेत्र में इन दिनों मनरेगा का काम मजदूरों की बजाय मशीनों से कराया जा रहा है। ऐसे में मजदूर काम के अभाव में अपने घर परिवार भी नही चला पाते हैं। विभागीय कर्मियों व जनप्रतिनिधियों की जुगलबंदी का आलम है कि हजारों मजदूरों की पेट पर लात मार देते है। प्रखंड क्षेत्र में चल रहे मनरेगा योजनाओं के कार्य में जेसीबी मशीन का उपयोग धड़ल्ले से किया जा रहा है। जिसके कारण स्थानीय ग्रामीण मजदूरों को काम नहीं मिल रहा है और वे पलायन करने को मजबूर हो रहे है।

बताया जाता है कि जितवरिया पंचायत में मनरेगा योजना के द्वारा पोखर उड़ाही का कार्य में मजदूरों से नहीं कराकर जेसीबी मशीन से खोदाई कराई गई है। मनरेगा योजना का एग्रीमेंट से पूर्व ही जेसीबी मशीन से कार्य करा लिया जाता है। बाद में पीआरएस के द्वारा सारी प्रक्रिया पूरी की जाती है।

 Valmiki Tiger Reserve में वन विभाग के ज्वाइंट ऑपरेशन, JCB-ट्रैक्टर जब्त

इस बारे में मानवाधिकार कार्यकर्ता कहते हैं कि मनरेगा योजना में इतनी बड़ी लापरवाही की जा रही है मगर अधिकारियों की ओर से इस पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इससे न सिर्फ बेरोजगारी बढेगी बल्कि सरकारी कार्यालयों में अराजकता भी बढ़ रही है। वहीं अभियंता कार्यस्थल का निरीक्षण किए बिना ही काम पास करते हैं। इस तरह वरीय पदाधिकारियों की आंखों मे धूल झोंककर मनरेगा योजना के साथ-साथ मजदूरों की रोटी से भी खिलवाड़ कर कर्मी व जन प्रतिनिधि चांदी काट रहे हैं। वहीं मजदूरों को रोजगार नहीं मिलने से उनके परिजनों के सामने भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। 

छायांकन: टिंकू कुमार

 

संपादिकृत: ठाकुर वरुण कुमार

 558 total views,  6 views today

Leave A Reply

Your email address will not be published.