बैंक उपभोक्ता सावधान : अगर आपके पास भी हैं एक से ज्यादा बैंक एकाउंट तो हो सकता है बड़ा नुकसान……. राजेश कुमार वर्मा

🔊 Listen This News बैंक उपभोक्ता सावधान : अगर आपके पास भी हैं एक से ज्यादा बैंक एकाउंट तो हो सकता है बड़ा नुकसान……. राजेश कुमार वर्मा समस्तीपुर (झंझट टाइम्स) । आज के समय ज्यादातर लोगों के पास एक १ से अधिक बैंक एकाउंट होते हैं। लोगों ने बिना जरूरत के ही २ एकाउंट खुलवाएं […]

 216 total views,  1 views today

बैंक उपभोक्ता सावधान : अगर आपके पास भी हैं एक से ज्यादा बैंक एकाउंट तो हो सकता है बड़ा नुकसान……. राजेश कुमार वर्मा
समस्तीपुर (झंझट टाइम्स) । आज के समय ज्यादातर लोगों के पास एक १ से अधिक बैंक एकाउंट होते हैं। लोगों ने बिना जरूरत के ही २ एकाउंट खुलवाएं होते हैं। लेकिन होता ऐसा है कि  वह 2 अकाउंट खुलवा तो लेते हैं लेकिन यूज एक ही कर पाते हैं औऱ दूसरा एकाउंट ऐसे ही खुला रहता है। नौकरीपेशा लोगों के लिए  तो ऐ बात साधारण है।इसका सबसे बड़ा कारण है, वह है एक उनका सैलरी अकाउंट और दूसरा उनका पर्सनल सेविंग अकाउंट। हम आपको आज बताने जा रहे हैं कि एक से ज्यादा बैंक अकाउंट खोलने से कैसे आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।
ये होंगे नुकसान सेविंग अकाउंट में बैंक की ओर से मि‍नि‍मम बैलेंस रखने का प्रावधान होता है। ऐसा न करने पर बैंक आपसे पेनाल्टी वसूलता है। कई बैंकों में मि‍नि‍मम बैलेंस की सीमा 10,000 रुपए है। ऐसे में अगर आपके पास दो से ज्यादा अकाउंट हैं तो आपकी टेंशन बढ़ सकती है, क्योंकि आम आदमी के लिए सेविंग अकाउंट में 20,000 रुपए जमा रखना काफी मुश्किल है।इनकम टैक्स फाइल करने में होती है परेशानी एक से अधिक ज्यादा बैंकों में एकाउंट होने से टैक्स जमा करते समय काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। कागजी कार्रवाई में भी अधिक माथापच्ची करनी पड़ती है। साथ ही इनकम टैक्स फाइल करते समय सभी बैंक खातों से जुड़ी जानकारियां रखनी पड़ती है। अक्‍सर उनके स्टेटमेंट का रिकॉर्ड जुटाना काफी पेचीदा काम हो जाता है।भरने होते हैं ये एक्स्ट्रा चार्जेज कई एकाउंट होने से आपको सालाना मेंटनेंस फीस और सर्विस चार्ज देने होते हैं। क्रेडिट और डेबिट कार्ड के अलावा अन्य बैंकिंग सुविधाओं के लिए भी बैंक आपसे पैसे चार्ज करता है। तो यहां भी आपको काफी पैसों का नुकसान उठाना पड़ता है।कम ब्याज के रुप में भी उठाना पड़ सकता है नुकसान एक से ज्यादा बैंकों में एकाउंट होने से आपको कम ब्‍याज के रूप में भी नुकसान उठाना पड़ता है। यानी एक से ज्‍यादा एकाउंट होने से आपका बड़ा एमाउंट बैंकों में फंस जाता है। उस राशि पर आपको ज्यादा से ज्यादा 4 से 5 फीसदी ही सालाना रिटर्न मिलता है। जबकि आप उस पैसे को दूसरी योजनाओं में लगा सकते हैं। इससे आपको सालाना रिटर्न के तौर पर ज्‍यादा ब्‍याज मि‍लेगा और किसी प्रकार की परेशानी या दिक्कत भी नहीं होगी।अगर एक से ज्यादा बैंक एकाउंट रखते है तो परेशानी झेलने के लिए तैयार रहें।
समस्तीपुर से राजेश कुमार वर्मा

 217 total views,  2 views today