*पुलिस अधीक्षक ने पांच दिनों के अंदर कई कांडों का किया उद्भेदन। रमेश शंकर झा/नवीन कुमार वर्मा की रिपोर्ट, समस्तीपुर बिहार।*

🔊 Listen This News   रमेश शंकर झा/नवीन कुमार वर्मा की रिपोर्ट, समस्तीपुर बिहार। समस्तीपुर:- जिले के नवनियुक्त पुलिस अधीक्षक विकास वर्मन आते ही अपना जलवा दिखाना शुरू कर दिया है। वहीँ पांच दिनों के अंदर ही कई कांडों का उद्भेदन के साथ, घटना में शामिल कई अपराधियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल। मुफस्सिल थाना […]

 241 total views,  1 views today

 

रमेश शंकर झा/नवीन कुमार वर्मा की रिपोर्ट,
समस्तीपुर बिहार।

समस्तीपुर:- जिले के नवनियुक्त पुलिस अधीक्षक विकास वर्मन आते ही अपना जलवा दिखाना शुरू कर दिया है। वहीँ पांच दिनों के अंदर ही कई कांडों का उद्भेदन के साथ, घटना में शामिल कई अपराधियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल। मुफस्सिल थाना परिसर में आयोजित प्रेस वार्ता में पुलिस अधीक्षक विकास वर्मन ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि घटनाओं में अपराधियों की सांठगांठ कई जेलों में बंद शातिर अपराधियों से है। जिस के संरक्षण में जेल से अपराध किए जाने की साजिश चल रही हैं। उन्होंने यह बात कह कर होम मिनिस्टर और जेल मिनिस्टर को संदेह के घेरे में ला दिया। क्योंकि जेल के अंदर से संगीन अपराध का अंजाम दिलवाना कहीं न कहीं किसकी तार सत्ता रूठ के कोई ना कोई बड़े नेताओं के संरक्षण में होने की आशंका है। मुफस्सिल थाना क्षेत्र में दिनांक 21जून19 को मोहनपुर स्थित सुधा मिल्क पार्लर की दुकान से पांच अपराधियों द्वारा सवा दो लाख रुपये (225000) की लूट किया गया था। घटना का उद्भेदन अभियुक्त की गिरफ्तारी एवं रुपया की बरामदगी हेतु अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रीतिश कुमार के नेतृत्व में मुफस्सिल पुलिस निरीक्षक सह थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य एवं पुलिस अवर निरीक्षक शाहबाज आलम, सहायक अवर निरीक्षक परशुराम सिंह, सिपाही अखिलेश कुमार को शामिल करते हुए एक टीम का गठन किया गया था।उन्होंने आगे कहा कि दो दिनों के अंदर ही घटना का उद्भेदन करते हुए इसमें शामिल आठ अपराधियों मे से एक रौशन कुमार झा को गिरफ्तार कर लिया गया है। घटनास्थलों एवं अन्य स्थलों से लिए गए सीसीटीवी फुटेज से अपराधियों और वाहन की पहचान करते हुए घटना में प्रयोग की गई मोटरसाइकिल उजला रंग की अपाची बिना नंबर के साथ ही घटना में उपयोग किए गए मोबाइल एवं लूट की 20000.00 बीस हजार रुपये के साथ ही इसके मुख्य अभियुक्त रौशन कुमार झा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। उन्होंने आगे कहां की घटना के पश्चात अपराधियों के भागने की दिशा में करीब 3 घंटे तक पुलिस द्वारा पीछा भी किया गया था। परंतु उस दिन सफलता नहीं मिली थी लगातार छापामारी करते हुए घटना में लाइनर के रूप में समस्तीपुर क्षेत्र के दो अपराधी को चिन्हित किया गया है। जिसमें एक सुधा मिल्क पार्लर के दुकानदार भी शामिल है। गिरफ्तार अपराधी ने इस घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करने के साथ ही लूट कांड में शामिल अपने साथियों का नाम प्रिंस मिश्रा, बादल कुमार, नन्द कुमार का नाम बताया है। घटना के लाइनर के रूप में समस्तीपुर क्षेत्र के ही दो अपराधी चिन्हित किए गए हैं।

जिसमें एक अपराधी का सुधा मिल्क पार्लर का दुकान भी है तकनीकी माध्यम एवं अनुसंधान से घटना में संलिप्त अपराध कर्मियों की पहचान करते हुए घटना में संलिप्त एक मुख्य अपराधी रौशन कुमार झा को गिरफ्तार किया गया है पुलिस अधीक्षक श्री वर्मन ने बताया कि घटना में कुल 8 अपराधी शामिल थे जिसमें से तीन अपराधी का नाम आ चुका है। आगे बताया कि इस घटना के मुखिया प्रिंस मिश्रा है जिसका मिश्रा सुधा मिल्क पार्लर थानेश्वर स्थान मंदिर के सामने है। उसी के द्वारा सारा सेटिंग किया गया था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत है एवं अन्य चार अपराधियों की तलाश की जा रही है। वहीं गुप्त सूचना के आधार पर मुफ्फसिल थानाक्षेत्र के निक्कू स्थान मोहनपुर में लूट की योजना बनाते हुए दो अपराधियों को पुलिस ने पीछा कर धर दबोचा तो एक अपराधी मौके से फरार होने में सफल हो गया। गिरफ्तार अपराधियों के पास से दो मोबाइल, एक देशी पिस्टल के साथ दो गोली एवं एक यामाहा आर आई जेड मोटरसाइकिल बरामद कीया गया है।

 242 total views,  2 views today