मुन्द्रा बंदरगाह पर हेरोइन के कारोबारी अडाणी को क्यूँ बचा रही है मोदी सरकार।

मुन्द्रा बंदरगाह पर हेरोइन के कारोबारी अडाणी को क्यूँ बचा रही है मोदी सरकार।


जे टी न्यूज़

बेतिया ::बिहार राज्य किसान सभा के संयुक्त सचिव प्रभुराज नारायण राव ने गुजरात के गौतम अडाणी के मुंद्रा बंदरगाह पर हेरोइन के ₹21000 के भारी खेप पकड़े जाने को देश के लिए भारी खतरा बतलाया है । इस राष्ट्रविरोधी घटना को दबा देने में भाजपा सरकार और उनकी मीडिया लगी हुई है । यहीं कारण है कि संत नरेन्द्र गिरी की आत्महत्या को भारी बनाकर दिखलाने में सारी मीडिया लगी हुई है । ताकि अडाणी की हेरोइन कांड को दबा दिया जाय । उन्होंने यह भी कहा के आज यह सर्व विदित है की देश में अंबानी अदानी कि मोदी सरकार कायम है । जो कारपोरेट जगत को देश में एक बड़े शिखर पर पहुंचाने के लिए आमादा है ।

जो देश की सारी संपत्ति को उनके हवाले कर अब किसानों की जमीन को भी उनके हवाले करने के लिए नए नए किसान विरोधी कानून बनाएं हैं ।
जो सरकार जनता के मतों पर निर्वाचित होकर 5 साल के लिए भारतीय संविधान के तहत सरकार बनाती है और वह सरकार जब देश की जनता की समस्याओं से मुंह मोड़ लेती है तो इतिहास इस बात की साक्षी है की ऐसी सरकारों का बड़ा ही बुरा हश्र हुआ है और वहां की जनता ने दूसरे मतदान के समय उनको गति से उतार देती है । लेकिन अंबानी अडानी की मोदी सरकार को पूरा भरोसा है कि कारपोरेट के पैसों के बल पर आगे भी गद्दी पूर्ण रुप से हासिल कर लेगें ।

यही कारण है कि आम जनता लगातार गरीबी रेखा के नीचे बढ़ती जा रही है , बेरोजगारों की लंबी कतार होती जा रही है आज देश के 97% लोगों की कमाई घटी है और शिक्षा और स्वास्थ्य में लगातार कटौती की जा रही है । ऐसी स्थिति में देश से फासीवादी ताकतों को जनता की जनवादी एकता के बल पर हीं धारासायी किया जा सकता है ।

हम कहना चाहते हैं कि देश की सुरक्षा और स्मिता को खतरे में डालकर कोई देश का शासक ज्यादा दिनों तक नहीं रह सकता है । क्योंकि यह उसकी जवाबदेही है कि देश की स्मिता की रक्षा के लिए ततपर रहे।

 48 total views,  2 views today