अतिथि शिक्षकों के नियुक्तिओं में कीया हद पार, लाखों की उगाही, प्रमाण पत्र कीया जांच:- *जय कांत राय।* रामेश शंकर झा/ ददराजकुमार राय की रिपोर्ट, बिहार।

🔊 Listen This News     रामेश शंकर झा/राजकुमार राय की रिपोर्ट, बिहार। मुजफ्फरपुर:- सरकार भले ही भ्रष्टाचार अपराध जातिवाद रोकने के नाम पर लाखों रुपए के विज्ञापन प्रकाशित कर जनता को भरपूर प्रयास करती है। लेकिन बिना रिश्वत लिए एक भी कार्य संपूर्ण बिहार में नहीं होता है। वहीँ मुजफ्फरपुर जिला के तत्कालीन जिला […]

 249 total views,  1 views today

 

 

रामेश शंकर झा/राजकुमार राय की रिपोर्ट,
बिहार।

मुजफ्फरपुर:- सरकार भले ही भ्रष्टाचार अपराध जातिवाद रोकने के नाम पर लाखों रुपए के विज्ञापन प्रकाशित कर जनता को भरपूर प्रयास करती है। लेकिन बिना रिश्वत लिए एक भी कार्य संपूर्ण बिहार में नहीं होता है। वहीँ मुजफ्फरपुर जिला के तत्कालीन जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं उच्चतर माध्यमिक के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना श्रीमती शर्मिला राय ने अतिथि शिक्षकों के नियुक्तिओं में की हद पार। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अंग्रेजी विषय में कुल 42 रिक्तियां आई है, जिसमें 25 अतिथि शिक्षकों को नियुक्ति पत्र निर्गत किए जाने की चर्चा है। जबकि शेष अतिथि शिक्षकों को प्रमाण पत्र जांच के नाम पर आज तक नियुक्ति पत्र निर्गत नहीं किया गया है। क्योंकि जिन अतिथि शिक्षकों के अभिभावकों या उम्मीदवारों ने कार्यालय का ख्याल रखा उन्हें तो नियुक्ति पत्र मिल गई, लेकिन जिसने नहीं रखा ख्याल उसका पत्र निर्गत नहीं किया गया है। सूत्र बताते हैं कि रकम के हिसाब से अतिथि शिक्षकों को मनपसंद विद्यालय आवंटित किया जाता है। इस क्रम में कुल 14 लोगों का प्रमाण पत्र जांच एवं सत्यापित होने के बाद भी अवैध लाभ के लिए स्थापना बीपीओ श्रीमती प्रमिला राय के कार्यालय के चक्कर लगाते-लगाते चुनाव गया और आचार संहिता लागू भी हो गया है। जानकारी के अनुसार स्थापना डीपीओ श्रीमती शर्मिला राय मोटी रकम लेकर बैक डेटिंग योगदान कराए जाने की गोरखधंधा जारी हैं। इस गोरखधंधा से अवैध राशि की उगाही भी जारी है। स्थापना डीपीओ शर्मिला राय की गोरख धंधे की जांच निगरानी से करवाने की मांग की जा रही है।

 250 total views,  2 views today