समस्तीपुर मंडल के 51 वर्ष पूरे

समस्तीपुर मंडल के 51 वर्ष पूरे

समस्तीपुर। पूर्वोत्तर रेलवे के एक मंडल के रूप में दिनांक 05 सितम्बर 1969 को अस्तित्व में आया समस्तीपुर मंडल आज नवगठित पूर्व मध्य रेलवे का एक मंडल बना, जो दिनांक 01 अक्टूबर, 2002 से विधिवत परिचालन मे आया। समस्तीपुर मंडल अपने गठन के 51 वर्षो में यात्री सुविधा एवं उत्तर बिहार के चम्पारण, मिथिलंाचल एवं कोसी प्रक्षेत्र के पूरे भाग को निरंतर एवं उत्तरोत्तर विकासोन्मुखी यातायात की सुविधा मुहैया कराता रहा है। समस्तीपुर निम्न प्रकार प्रशासकीय रेल क्षेत्र मे अपनी सेवाएँ देता रहा है:

ऽ तिरहुत स्टेट रेलवे (टीएसआर)
ऽ बंगाल एण्ड नार्थ वेस्टर्न रेलवे (बीएनडब्लूआर)
ऽ अवध तिरहुत रेलवे (ओटीआर)
ऽ पूर्वोत्तर रेलवे (एनईआर) – 14 अप्रैल, 1952
ऽ पूर्व मध्य रेल (ईसीआर) – 01 अक्टूबर 2002

अपने ऐतिहासिक यात्रा मे समस्तीपुर मंडल ने यात्रियों की सुविधा के लिए कई कीर्तिमान स्थापित किये है। यह मंडल पूर्व मे छोटी लाईन के माध्यम से यात्रियो को अपनी सेवाएँ दे रहा था जो अब बड़ी लाईन मे परिवर्तित हो चुका है मंडल के लगभग 75 प्रतिषत रेल खंडो का विद्युतीकरण हो चुका है तथा बचे हुए खंडो में कार्य प्रगति पर है। इस मंडल के समस्तीपुर-दरभंगा खंड मे रेल दोहरीकरण का कार्य भी प्रगति पर है।

यह मंडल बिहार के 03 क्षेत्रांे को निम्न 15 जिलो को अपनी सेवाएँ मुहैया कराता है:
चम्पारण क्षेत्र के पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चम्पारण, शिवहर, मुजफ्फरपुर एवं वैशाली मिथिला क्षेत्र के दरभंगा, मधुबनी , समस्तीपुर एवं सुपौल एवं कोशी क्षेत्र के सहरसा, मधेपुरा , अररिया , पूर्णियाँ, खगड़िया एवं बेगुसराय कुल 15 जिलों में सेवाएं दे रही है। समस्तीपुर मंडल के अधिकांश क्षेत्र बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के अन्तर्गत आते है। इस मंडल के परिक्षेत्र मे बहने वाली कोसी, बागमती, बूढ़ी गंडक, कमला, बलान, अवधारा समूह, लखनदेई एवं सिकराना नदियों के विकराल रूप के कारण प्रत्येक वर्ष इस मंडल मै यातायात अवरूद्ध होता है। परन्तु रेल प्रशासन अपनी सजगता एवं तत्परता से इसे त्वरित एवं प्रभावी रूप से नियंत्रित करता है।

इस रेल मंडल के 05 प्रमुख स्टेशन यथा रक्सौल, जयनगर, लौकहाबाजार, बैरगनिया एवं राघोपुर का हमारे पड़ोसी देश नेपाल की सीमा से जुड़े है। जिस कारण इस मंडल की अन्तर्राष्ट्रीय महत्ता भी बढ़ती है।
यह मंडल लगभग 1156 ट्रैक किलोमीटर पर अपने यात्रियों को कुल 115 स्टेशन, 69 हाल्ट स्टेशन तथा 17 फ्लैग स्टेषनों के माध्यम से अपनी सेवाएॅ प्रदान करता है।
वर्तमान में कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए मंडल में लंबी दूरी की 11 गाड़ियाँ, 05 जोड़ी इंटरसिटी गाड़ियाँ तथा 06 जोड़ी सवारी गाड़ियाँ चल रही हैं। सामान्य दिनों में इस मंडल द्वारा 52 दैनिक, 76 साप्ताहिक, 28 द्वि साप्ताहिक, 12 त्रिसाप्ताहिक, 04 सप्ताह में चार दिन, 02 सप्ताह में 05 दिन, 10 सप्ताह में 06 दिन कुल 184 एक्सप्रेस गाड़ियों द्वारा यात्रियों को सेवा मुहैया कराई जाती है।.इसके अतिरिक्त 36 कन्वेनषनल, 44 डेमू तथा 32 मेमू कुल 112 गाड़ियाँ भी यात्रियों की सेवा में निरंतर परिचालित रहती हैं।
समस्तीपुर स्थित याॅंत्रिक कारखाना एवं डीजल शेड के रूप में 02 महत्वपूर्ण ईकाई भी भारतीय रेल को अपनी सेवाएॅ दे रहा है।
इस प्रकार अपने स्थापना के 51 वर्ष पूर्ण करते हुए समस्तीपुर मंडल उपरोक्त माध्यमों से यात्रियो की निरंतर सुविधा में सतत् प्रयत्नषील एवं उŸारोŸार विकास के लिए कटिबद्ध है।

R.K.ROY 9431406262

Leave A Reply

Your email address will not be published.