*डीएसपी और खनन विभाग ने की बड़ी कार्रवाई*

सैकड़ों सेफ्टी बालू के साथ ट्रक टैक्टर और लोडर जप्त

डीएसपी और खनन विभाग ने की बड़ी कार्रवाई

सैकड़ों सेफ्टी बालू के साथ ट्रक टैक्टर और लोडर जप्त

22 sept 2021


जेटी न्यूज
राजेश कुमार सिंह

भागलपुर: जिले के कजरैली और जगदीशपुर में बालू माफिया नदी और खेतों का सीना चीर कर व नदी के किनारे आम के बगीचों से काफी लंबे समय से बालू का अवैध खनन, माइनिंग अधिकारी भगलपुर, के सांठगांठ से चला रहे हैं।

नतीजा यह है कि कुछ ही वर्षों में सैकड़ों एकड़ जमीन बंजर और गड्ढे में तब्दील हो चुका है। ग्रामीणों की शिकायत पर पटना से आए खनन विभाग के वरीय अधिकारी सुरेन्द्र सिंह एवं जगदीशपुर थाना अध्यक्ष सह डीएसपी विपिन बिहारी के नेतृत्व में सघन छापेमारी की गई, जिसमें सैकड़ों सेफ्टी अवैध बालू के साथ, ट्रक, लोडर, ट्रैक्टर को जब्त किया गया।


यह अवैध बालू खनन का खेल पीछले कई वर्षों से कजरेली जगदीशपुर पुलिस और भागलपुर खनन विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से चल रहा था। भागलपुर जिले में बालू की बंदोबस्ती नही है किंतु इन अधिकारियों के द्वारा एक पूरी की पूरी अवैध बंदोबस्ती को चलाया जा रहा है। यह भी एक कारण है कि बालू की बंदोबस्ती कई सालों से नही हो पाई है। इसमें सजोर, जगदीशपुर व कजरैली थाना शामिल है।

जब जब विरिया अधिकारियों द्वारा जांच की जाती है तब तब भारी मात्रा में अवैध बालू जब्त किया जाता है, किंतु इन भागलपुर के खनन अधिकारियों एवं लोकल पुलिस के कान पर जूं तक नही रेंगती है। इतना ही नही, इन अधिकारियों द्वारा बांका के लगभग 20 किलोमीटर के प्रतिबंधित क्षेत्र में भी धड़ल्ले से अवैध खनन करवा कर भागलपुर जिले में बालू डंपिंग कर राज्य के दुर दराज के जिलों में भेजा जा रहा है। इसके चलते सरकार को करोड़ों रुपए का नुकसान तो हुआ ही है साथ ही साथ पर्यावरण को भी काफी हद तक छती पहुंचाया गया है। इसके चलते जगदीशपुर में कतरनी धान और आम के बगीचों में भी काफी असर पड़ा है, जोकि आज की कार्यवाही से स्पष्ट हो जाता है।
आज तक इन तीन थानों में जो भी अधिकारी आये हैं उन सबका ट्रांसफर का बजह कहीं ना कहीं बालू के चलते ही हुआ है। अधिकारी आते गए और जाते गए लेकिन ये अवैध खनन का गोरख खेल यूँही चल रहा है। जानकारी के अनुसार 2015 से पूर्व सरकार को सालाना 10 करोड़ का राजस्व भागलपुर के इन घाटों से आया करता था ,लेकिन इन भरष्ट अधिकारियों के चलते ये राजस्व आना बंद हो गया है ।क्योंकि जब भष्ट अधिकारी ही अपने जेबों को भरने लगे अवैध खनन में संलिप्त हो जाएगा तो कोई भी बंदोबस्ती नही होगा।गरिमत यह रहा कि थाना अध्यक्ष आते रहे जाते रहे मगर सबकी नजर हमेशा बालू पर ही टिकी रही। कार अगर सरकार इन 5 वर्षों में आए अधिकारी और थाना अध्यक्ष की संपत्ति को खंगाले तो सारे भ्रष्टाचार की पोल खुल जाएगी इस संबंध में जगदीशपुर थाना अध्यक्ष विपिन बिहारी ने बताया ट्रक लोडर और ट्रैक्टर को जप्त किया गया है साथ ही सैकड़ों स्लीप बालू भी जबकि गई है वाहन मालिक और डंपर पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 412 total views,  2 views today

image2