वर्तमान मौसम में किसान आम के मंजरों का रखें विशेष ख्याल- डॉ सुनीता।

वर्तमान मौसम में किसान आम के मंजरों का रखें विशेष ख्यालःडॉ सुनीता


राजेश कुमार

खोदावंदपुर/बेगूसराय। वर्तमान मौसम में आम के पौधों में मंजर आ गया है. जिसे किसानों को अपने खेतों में लगें आम का पौधों के मंजरों का विशेष ख्याल रखें.

इसकी जानकारी देते हुए कृषि विज्ञान केन्द्र खोदावंदपुर की वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डॉ सुनीता कुशवाहा ने कहा कि मौसम में बदली छायी हुयी है.

और मधुमक्खियों के द्वारा परागण की प्रक्रिया भी शुरू हो गयी है.ऐसी परिस्थिति में अच्छा उत्पादन पाने के लिए किसानों अगर बदली छायी हुयी है तो किसी भी प्रकार का स्प्रे छिड़काव न करें.

इसके साथ ही यदि बारिश हो जाती है, तो वर्षा के बाद धूप निकलेगा तब किसानों ने जिस आम के पौधों में मंजर निकला ही है, खिला नहीं है,

तब उसमें दवा का छिड़काव किया जा सकता है. जिसमें इमिडाक्लोप्रिड नामक दवाई 1 मिली 3 लीटर पानी में घोलकर तथा कार्बेंडाजिम एवं मैनकोजेब नामक दवा 3 ग्राम 1 लीटर पानी में घोल कर छिड़काव करें.

जिन पौधों में मंजर/ फूल पूर्ण रूप से आ चुका है, और खिलने की अवस्था में किसान किसी भी प्रकार की दवा का प्रयोग ना करें. ऐसा करने से परागण की प्रक्रिया बाधित हो जाएगी और उनको नुकसान उठाना पड़ सकता है.

आम के बगीचे में अभी पानी ना दें. जब तक कि टिकोला मसूर के दाने के बराबर ना हो जाये, तब तक किसी भी प्रकार की सिंचाई ना करें.इस मौके पर वैज्ञानिक डॉ कुशवाहा ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में लगे आम के पौधा का भी जायजा लिया.तथा इसके रखरखाव के लिए प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक सुरेन्द्र कुमार, शशिकांत मिश्रा, रामायण सिंह, जितेन्द्र कुमार, एएनएम प्रमिला कुमारी सहित अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को आवश्यक निर्देश दी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.