जालियांवाला सामूहीक जनसंहार की सौ वीं वर्षगांठ पर श्रद्धांजली सभा का आयोजन किया गया। रमेश शंकर झा समस्तीपुर बिहार।

    रमेश शंकर झा समस्तीपुर बिहार। समस्तीपुर:- जिले के विवेक-विहार में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। वहीँ जालियांवाला सामूहीक जनसंहार की सौ वीं वर्षगांठ पर, कांड के तमाम शहीदों को दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दिया गया। तत्पश्चात घटना से संबंधित दस्तावेज का पाठ कर विस्तार पूर्वक इसकी चर्चा की गई। […]

 

 

रमेश शंकर झा
समस्तीपुर बिहार।

समस्तीपुर:- जिले के विवेक-विहार में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। वहीँ जालियांवाला सामूहीक जनसंहार की सौ वीं वर्षगांठ पर, कांड के तमाम शहीदों को दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दिया गया। तत्पश्चात घटना से संबंधित दस्तावेज का पाठ कर विस्तार पूर्वक इसकी चर्चा की गई। बतौर अध्यक्षीय संबोधन करते हुए भाकपा माले नेता सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि 13 अप्रैल 1919 को अमृतसर में रेजिनाल्ड डायर ने चलती मीटिंग के दौरान हजारों निहत्थे लोगों पर अपने टुकड़ी के 50 सैनिकों को आदेश देकर गोलियां बरसाई थी। वहीँ 10 मिनट तक सभी उपलब्ध 1650 राउंड फायर क्या गया था। 370 लोग मरे गए थे और करीब 1 हजार लोग घायल हुए थे। उन्होंने कहा कि आजादी की लड़ाई पर दमन करने के लिए ब्रिटिश हुकूमत द्वारा बनाई गई योजना का यह घटना का एक हिस्सा था। काला कानून राँलेट एक्ट एवं 1857 की तरह हिंदु-मुस्लिम एकता से घबराकर इस घटना को अंजाम दिया गया। उनहोंने कहा मोदी सरकार नफरत की राजनीति करके एकता को तोड़ना चाहती है। हम जनता से अपील करते हैं कि इस लोकतंत्र एवं संविधान विरोधी सरकार को सभी संप्रदाय के लोग मिलकर उखाड़ फेंके। सभा में राजीव कुमार, विवेक कुमार, रोहित कुमार आदि ने भी अपने-अपने विचार व्यक्त किया।