*कलम को रोकने के विरोध में धरने पर बैठे पत्रकार।*

🔊 Listen This News   उषा सरदार बिराटनगर नेपाल। भारत नेपाल सिमा से सटे नेपाल के प्रदेश संख्या एक के बिराटनगर में पत्रकार के स्वत्रंता पर लगाये गए अंकुश को लेकर प्रदेश एक के सम्पूर्ण पत्रकार अपने संचार सामग्री को रख कर मित्र देश के सम्पूर्ण पत्रकार देश ब्यापी आंदोलन में है उक्क्त आन्दोलन में […]

 301 total views,  1 views today

 

उषा सरदार
बिराटनगर नेपाल।

भारत नेपाल सिमा से सटे नेपाल के प्रदेश संख्या एक के बिराटनगर में पत्रकार के स्वत्रंता पर लगाये गए अंकुश को लेकर प्रदेश एक के सम्पूर्ण पत्रकार अपने संचार सामग्री को रख कर मित्र देश के सम्पूर्ण पत्रकार देश ब्यापी आंदोलन में है उक्क्त आन्दोलन में प्रेस यूनियन, प्रेस सेन्टर, स्वतंत्र पत्रकार से आबद्ध सैकड़ो पत्रकारों की एक साथ उपस्थिति रही है। नेपाल पत्रकार महासंघ मोरंग के अध्यक्ष बन्धु पोखरेल के नेतृत्व में आज धरना पर बैठे पत्रकारों ने अपने-अपने सम्बोधन में एक स्वर में सरकार के नीति को प्रेस स्वत्रंता पर अंकुश लगाने वाला कानून का बिरोध किया है। महासंघ के अध्यक्ष श्री पोखरेल ने सरकार के द्वारा लाये गए प्रेस काउंसिल विधेयक को प्रेस के ऊपर लाये गए कुंठित भवना से ग्रषित हो कर है महासंघ से रैली निकलर कर डी प्लाट में धरना पर बैठ कर पत्रकारों ने कोण सभा किया । क्या है नया कानून संघीय सरकार के द्वारा लाये गए कानून में किसी भी ब्यक्ति के सम्मान में ठोस पहुचने के खबर सम्प्रेषण पर 25 हजार से एक लाख तक का जुर्माना या जुर्माना नही देने पर गिरफ्तारी का प्रवाधान है । पत्रकारों में कुमोद अधिकारी ,नवीन कर्ण, बिबेक गौतम,बिनु तिमशीना,जितेंद्र ठाकुर ,सत्यनारायण शर्मा,उषा सरदार,प्रेम दीवान,सुमन सुसकेरा,देव नारायण साह, अनिल श्रेष्ठ, संतोष मेहता,शिवम मिश्रा सहित अन्य सैकड़ो पत्रकरो कि उपस्थिति थी।

 302 total views,  2 views today