*पूषा में बरसात के पानी से जल जमाव होने के कारण बरसात का पानी घरों में प्रवेश करने लगा है। ब्यूरो रमेश शंकर झा के साथ महताब आलम की रिपोर्ट, समस्तीपुर बिहार। सब पे नजर सबकी खबर, हमसे जुड़ने के लिए:- ८७०९०१७८०९, W:- ९४७०६१६२६८, ८४३१४०६२६२ पर संपर्क करें।*

🔊 Listen This News   ब्यूरो रमेश शंकर झा के साथ महताब आलम की रिपोर्ट, समस्तीपुर बिहार। समस्तीपुर/पूसा:- पूसा प्रखंड क्षेत्र के राज हरपुर महमदा पंचायत का हाल और व्यवस्था हल्की बारिश के बाद बुरा हाल। दरअसल राज हरपुर महमदा पंचायत में बरसात के पानी से जल जमाव होने के कारण बरसात का पानी घरों […]

 453 total views,  1 views today

 

ब्यूरो रमेश शंकर झा के साथ महताब आलम की रिपोर्ट,
समस्तीपुर बिहार।

समस्तीपुर/पूसा:- पूसा प्रखंड क्षेत्र के राज हरपुर महमदा पंचायत का हाल और व्यवस्था हल्की बारिश के बाद बुरा हाल। दरअसल राज हरपुर महमदा पंचायत में बरसात के पानी से जल जमाव होने के कारण बरसात का पानी घरों में प्रवेश करने लगा है। इस पंचायत में सरकारी नाला का व्यवस्था बहुत ही दयनीय है। नाला अब वाटर टैंक का काम कर रहा है 1 दिन के बारिश से होने वाली जलजमाव से लोग परेशान होने लगे हैं। साथ ही में घातक बीमारियां जैसी मलेरिया, हैजा इत्यादि का फैलने का डर और भी बढ़ गया है। बिगड़ते हुए हालात को देखते हुए वार्ड संख्या आठ, नौ, दस, ग्यारह के ग्रामीण लोगों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी पुसा को एक शिकायत पत्र लिखा,

जिनमें उन्होंने यह पुष्टि की है कि इन वार्डों में अक्सर बारिश के मौसम में जल जलजमाव हो जाता है और अधिक परेशानी तब होती है जब सरकारी नालों का पानी घर में घुसने लगता है। बीते साल 2017 में ही आखरी बार नाली की सफाई का काम हुआ था, और उक्त साल से आज तक नाली की सफाई नहीं की गई है। जबकि पंचायती राज विभाग बिहार सरकार के सचिव श्री अरविंद कुमार चौधरी का यह आदेश है कि नाली की साफ सफाई का काम लगातार होते रहना चाहिए। जबकि इसके विपरीत चलते हुए वर्तमान मुखिया का कोई ध्यान इस मामले पर नहीं है। बारिश के मौसम से 3 माह पूर्व से ही पूर्व मुखिया ने मुखिया के दरवाजे पर जाकर लगातार आग्रह किया था कि नाले की साफ सफाई का काम होना चाहिए लेकिन मुखिया ने अनदेखा करते हुए अभी तक कोई भी फैसला नहीं लिया है। साफ तौर पर यह मुखिया की मनमानी और उनके दुष्ट मिजाज को दर्शाता है।

 454 total views,  2 views today