आर सी ई पी समझौता के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतला दहन

आर सी ई पी समझौता के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतला दहन बेतिया::-भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी)की पश्चिम चम्पारण जिला कमिटी द्वारा बेतिया (आर सी इ पी )रीजनल कम्प्रिवेसिव इकनोमिक पार्टनरशिप के विरोध में बेतिया शहर में मार्च निकाल कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला सोवा बाबू चौक पर जलाया गया ।आसियान देशों के […]

आर सी ई पी समझौता के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुतला दहन

बेतिया::-भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी)की पश्चिम चम्पारण जिला कमिटी द्वारा बेतिया (आर सी इ पी )रीजनल कम्प्रिवेसिव इकनोमिक पार्टनरशिप के विरोध में बेतिया शहर में मार्च निकाल कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पुतला सोवा बाबू चौक पर जलाया गया ।आसियान देशों के बीच क्षेत्रीय ब्यापक आर्थिक भागीदारी का समझौता भारत सरकार के करने से किसानों की हालत और बिगड़ जायेगी। देश के किसानों को अंधेरे में रखकर यह आर सी इ पी समझौता किया जा रहा है ।इस समझौते में दूध उत्पादकों को शामिल किया गया है ।

इस समझौते से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैण्ड से टेट्रापैक दूध बिना किसी शुल्क के देश में आयेगा।जिससे भारत के दूध और सस्ते हो जायेंगे और किसान घाटे में चले जायेंगे ।


विरोध मार्च में सीपीएम के कार्यकारी जिला मंत्री चांदसी प्रसाद यादव ,प्रभुनाथ गुप्ता ,वी के नरुला, म.हनीफ ,नीरज बरनवाल ,प्रकाश कुमार वर्मा ,शंकर कुमार राव , अवध बिहारी प्रसाद ,म.वहीद, अनिल अनल ,अशर्फी प्रसाद , अनवार अली ,अम्बिका पंडित ,म.सहीम,मंनौवर अंसारी ,सरल दास आदि ने भाग लिया ।