*भारी मात्रा में मिला हथियार और जिंदा कारतूस।*

🔊 Listen This News   राजेश कुमार शर्मा जोगबनी जोगबनी:- हरिपुर गाँव में सरपंच के खेत व घर से भारी मात्रा में हथियार व जिंदा कारतूस मिलने का सनसनीखेज मामला शुक्रवार को फारबिसगंज पुलिस को मिला है। गुप्त सूचना के आधार पर किये गए इस कार्रवाई का नेतृत्व फारबिसगंज डीएसपी मनोज कुमार ने एक टीम […]

 209 total views,  1 views today

 

राजेश कुमार शर्मा
जोगबनी

जोगबनी:- हरिपुर गाँव में सरपंच के खेत व घर से भारी मात्रा में हथियार व जिंदा कारतूस मिलने का सनसनीखेज मामला शुक्रवार को फारबिसगंज पुलिस को मिला है। गुप्त सूचना के आधार पर किये गए इस कार्रवाई का नेतृत्व फारबिसगंज डीएसपी मनोज कुमार ने एक टीम गठित कर किया उद्भेदन। घटना ने पूरे गाँव मे खलबली मचा दिया है। मौके पर मौजूद डीएसपी ने पुलिस जवान के साथ हरिपुर सरपंच डोली देवी पति शिवरतन दास के मकई खेत में जहां कई जिंदा कारतूस, थ्रीनट, बम बनाने वाले कई उपकरण प्राप्त किया है। वहीँ पुलिस ने शक पर जब सरपंच पति शिवरतन दास के घर की तलासी लिया तो जमीन के अंदर से चार जिंदा कारतूस भी बरामद किया गया है। ग्रामीण व प्रशासन की माने तो यहां कई दिनों से इस तरह के क्रिया कलाप हो रहा था। ग्रामीणों को संदेह है कि कही न कही इस हथियार का प्रयोग बड़ी घटनाओं को अंजाम देने की आशंका व्यक्त की जा रही है। इतने बड़े मात्रा में हथियार मिलने से ग्रामीणों में काफी भय का माहौल वयाप्त है। वही पुलिस भी अचंभित है। ग्रामीणों की माने तो हरिपुर पंचायत रिहायशी इलाके में शुमार है। बताया जाता है कि हरिपुर चौक अपराधियो के रूप में इन दिनों विकसित हो रहा है। हरिपुर एवं आसपास के क्षेत्रों में अपराध की गतिविधियों में इजाफा हुआ है। जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण है की शुक्रवार को इतनी बड़ी मात्रा में गोली बारूद की बरामदगी है। ग्रामीणों ने हरिपुर में पुलिस नाका खोलने की पुरानी मांग को अब फिर से उठाना शुरू कर दिया। ग्रामीणों का कहना है कि फारबिसगंज थाना आठ किलो मित्र दूर पड़ता है आपराधिक घटनाओं के वक्त सूचना जे बावजूद भी पुलिस को पहुंचने में काफी विलम्भ हो जाता है। ऐसे में अपराधी तत्त्व अपराध कर आराम से भाग जाते है। हरिपुर में पिछले काफी दिनों से व्यवासाई गतिविधियों में वृद्धि हुई है इस लिए ग्रामीणों के साथ साथ व्यापारी की सुरक्षा के लिये पुलिस नाका खोलना महत्वपूर्ण है। विदित हो कि वर्ष 2014 में जब हरिपुर के प्रसिद्ध खाद व्यवसाई कपिल देव मेहता के घर मे भीषण डाका डाला गया था तो ग्रामीणों के पहल पर तत्कालीन पुलिस अधीक्षक शिवदीप लांडे के द्वारा कुछ दिनों तक पुलिस नाका का प्रबंध किया गया था लेकिन फिर शिथिल हो गया। घटना स्थल पर पुलिस प्रशासन के अलावा हरिपुर के मुखिया परमानन्द ऋषि, पूर्व मुखिया परवीन कुमार दास, पूर्व सरपंच महेन्द्र भगत , कपिलदेव मेहता , शुशील कुमार दास, जितेंद्र कुमार दास, रामदेव ऋषिदेव आदि मौजूद थे। ग्रामीणों ने प्रशासन से इस घटना शामिल लोगो पर कड़ी कार्यवाही की मांग की तथा जल्द पुलिस नाका बने इस पर पहल करने हेतु भी आवाज उठाई।

 210 total views,  2 views today