*रेल कारखाना बंद करने का निर्णय दुर्भाग्यूर्ण :दुर्गेश, बंद करने की जगह करें विद्युतीकरण*

*रेल कारखाना बंद करने का निर्णय दुर्भाग्यूर्ण :दुर्गेश, बंद करने की जगह करें विद्युतीकरण*


आर. के .राय
समस्तीपुर। जननायक कर्पूरी ठाकूर जी की जन्मभूमि और कर्मस्थली के बावजूद सांस्कृतिक, व राजनीतिक रूप से समृद्ध समस्तीपुर अपने स्थापना काल से ही औद्योगिक रूप से अविकसित जिला रहा है। इसी को ध्यान में रखकर तत्कालीन रेलमंत्री राम विलास पासवान ने गोंडा और न्यू जलपाईगुड़ी के बीच अवस्थित समस्तीपुर जिले के विकास के लिए डीजल शेड का शिलान्यास किया था।

आज उसे बंद करने की खबर बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। उक्त बातें जदयू नेता दुर्गेश राय ने रेल मंत्रालय सहित तमाम संबंधित मंत्री व सांसद को लिखे पत्र में कहीं है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1996 में तत्कालीन रेल मंत्री श्री पासवान द्वारा डीजल शेड निर्माण हेतु शिलान्यासके बाद वर्ष 1998 में तत्कालीन रेलमंत्री सह मौजूदा सीएम नीतीश कुमार ने डीजल शेड निर्माण स्थल का निरीक्षण और वर्ष 2001 में इस नव निर्मित डीजल शेड का उद्घाटन किया था।

इस अवसर पर तत्कालीन विधायक रामनाथ ठाकुर, उजियारपुर की प्रथम सांसद अश्वमेघ देवी भी उपस्थित थे। श्री राय ने बताया है कि इस डीजल शेड के उद्घाटन के समय से ही रेलवे के हर स्तर पर धारणा थी कि रेलवे विधुतीकरण होने पर डीजल शेड को 100 इंजन वाला इलेक्ट्रीक शेड में परिवर्तित कर दिया जाएगा।

इसके लिए महाप्रबंधक महोदय के समय-समय पर होने वाले निरीक्षण के समय इस दिशा में जरूरी निर्देश देते रहे हैं। लेकिन इस दिशा में कोई खास प्रगति नहीं हुई। इसी बीच अब खबर है कि रेलवे बोर्ड द्वारा डीजल शेड में मेन्टनेन्स का कार्य बंद करने का आदेश दिया गया है।

इस डीजल शेड में 148 इंजन का मेंन्टनेन्स होता आ रहा है। लेकिन रेलवे बोर्ड के आदेश के कारण सारे डीजल इंजन को कंडमनेशन का कार्य (GRS) किया जा रहा है। जिससे डीजल शेड में इंजनों की संख्या में धीरे-धीरे कम होती जा रही है।

जिस कारण यह डीजल शेड बंद होने के कगार पर पहुँच गया है। समस्तीपुर जिला आज समस्तीपुर जिला केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय जी की कर्मस्थली है तथा राज्य सभा सांसद रामनाथ ठाकुर एवं लोकसभा सदस्य प्रिंस राज का कार्यक्षेत्र है। इस सबके बाद भी जिले के एकमात्र उम्मीद डीजल शेड का बंद होना जिले के लोगों एवं रेल कर्मचारियों के लिएदुर्भाग्यपूर्ण निर्णय है। अपने पत्र द्वारा श्री राय ने डीजल शेड को बंद होने से रोक कर इसका पूर्व योजना के मुताबिक विद्युतीकरण कर दिया जाय।

Leave A Reply

Your email address will not be published.