*समस्तीपुर पुलिस किस रिमोट की करती रही इंतजार..? आर० के० राय समस्तीपुर बिहार। सब पे नजर, सबकी खबर।*

  आर० के० राय समस्तीपुर बिहार। समस्तीपुर:- जिले के आदर्श नगर थाना बना अपराधियो का सुरक्षित क्षेत्र। जहां कई महीनों से अपरहण, वेश्यावृत्ति, लुटेरों एवं छात्र छात्राओं के नाम पर गिरोह का संचालन तथा व्यवसाओं, निजी क्षेत्रों, बड़े फिनेंस कंपनियों के कर्मचारियों के अपराध कर्मियों के द्वारा अवैध राशि नहीं देने पर शहर के पुलिस […]

 

आर० के० राय
समस्तीपुर बिहार।

समस्तीपुर:- जिले के आदर्श नगर थाना बना अपराधियो का सुरक्षित क्षेत्र। जहां कई महीनों से अपरहण, वेश्यावृत्ति, लुटेरों एवं छात्र छात्राओं के नाम पर गिरोह का संचालन तथा व्यवसाओं, निजी क्षेत्रों, बड़े फिनेंस कंपनियों के कर्मचारियों के अपराध कर्मियों के द्वारा अवैध राशि नहीं देने पर शहर के पुलिस संरक्षण में अपरहन हमले के कई मामले ठंडा पड़ा ही नहीं की समस्तीपुर के चर्चित स्क्रैप व्यापारी बद्री गोयनका समेत पत्नी और बेटी को गोली मार कर निर्मम हत्या का प्रयास किए जाने से जिले भर के व्यवसायियों में आतंक और भय का माहौल व्याप्त है। कल शाम से लेकर घटना के पहले तक ऐसी चर्चा है कि अपने जान बचाने के लिए और खतरे की सूचना देने की गुहार समस्तीपुर आदर्श नगर थाना में कई घंटों तक चक्कर काटते रहे। परंतु बेशर्मी पुलिस किस रिमोट का इंतजार करती रही यह भी चर्चा विषय है। यह भी चर्चा है कि काशीपुर क्षेत्र कुछ दिनों पहले एक फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी का अपहरण कर हत्या की नियत से जानलेवा हमले के मामले में पुलिस आज तक मौन किसके इसारे पड़ कर रही है। अपराधी और पुलिस सांठगांठ का यह पुराना इतिहास है। ऐसा लगता है कि समस्तीपुर पुलिस अपराधियों के समक्ष घुटना टेक चुकी है।