प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना: आयुष्मान कार्ड बनाने को विशेष कैंप का आयोजन

आयुष्मान कार्ड वालों को हर साल पाँच लाख तक का इलाज है निःशुल्क - विधायक द्वारा हुआ कार्ड का वितरण

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना: आयुष्मान कार्ड बनाने को विशेष कैंप का आयोजन

आयुष्मान कार्ड वालों को हर साल पाँच लाख तक का इलाज है निःशुल्क

– विधायक द्वारा हुआ कार्ड का वितरण

– सूचीबद्ध अस्पतालों में मिलती है निःशुल्क इलाज की सुविधा
जे टी न्यू

 

मोतिहारी-जिले के छौड़ादानों प्रखंड के खैरवा पंचायत में असंगठित क्षेत्र के कामगारों के ई श्रम पोर्टल पर निबंधन तथा निबंधित निर्माण श्रमिकों के लिए प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनाने को विशेष कैंप का आयोजन श्रम अधीक्षक राकेश रंजन तथा श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी छौड़ादानो के द्वारा किया गया। जिसमें सैंकड़ो कामगारों का ई श्रम कार्ड बनवाकर श्रमिकों तथा कामगारों के बीच विधायक मो शमीम अहमद के हाथों से कार्ड का वितरण किया गया।

– पाँच लाख तक का इलाज है निःशुल्क ;
जिला श्रम अधीक्षक ने बताया कि जिन निबंधित निर्माण श्रमिकों ने अभी तक अपना आयुष्मान कार्ड नहीं बनवाया है, वे अपने आधार कार्ड और श्रम अधीक्षक या श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी द्वारा बनाए गए लेबर कार्ड को लेकर इस विशेष कैंप में जाकर या अपने घर के नजदीकी वसुधा केन्द्र पर जाकर आयुष्मान कार्ड जरूर बनवा लें। ताकि उन्हें हर साल पाँच लाख तक का इलाज निःशुल्क प्राप्त हो सके ।

– 15 दिनों तक लगातार लगाया जाएगा कैम्प;
श्रम अधीक्षक ने बताया कि छौड़ादानो ,बनकटवा तथा बंजारिया प्रखंड के सभी पंचायतों में यह विशेष कैंप अगले 15 दिनों तक लगातार लगाया जाएगा। ताकि 16 से -60 वर्ष की आयु वर्ग के असंगठित कामगार पंचायतों में आयोजित विशेष कैंप में अपने आधार कार्ड और बैंक खाता के साथ जाकर या अपने घर के नजदीकी वसुधा केन्द्र पर जाकर अपने ई श्रम कार्ड बनवा सकते हैं ।

 

– सूचीबद्ध अस्पतालों में मिलती है निःशुल्क इलाज की सुविधा;

श्रम अधीक्षक राकेश रंजन व आयुष्मान भारत योजना के जिला कार्यक्रम समन्वयक ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा गरीबी से परेशान लोगों के लिए नि:शुल्क स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने को लेकर आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की गई थी। भवन निर्माण सहित अन्य कामगार पंजीकृत मजदूरों का ही आयुष्मान कार्ड बनाया जा रहा है। इसी योजना के तहत श्रमिकों का आयुष्मान भारत योजना से संबंधित कार्ड बनाया जा रहा है। पात्र लाभार्थियों को इस योजना के तहत 5 लाख रुपए तक प्रति वर्ष मुफ्त इलाज के लिए सरकार द्वारा सूचीबद्ध अस्पतालों में सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। साथ ही जिले में चयनित अस्पतालों को इस योजना से जुड़े लाभार्थियों को इस योजना के तहत निःशुल्क इलाज का लाभ मिलता है।

 35 total views,  1 views today