मेडिकल कालेज का हाल गंगापुर पोलिटेकनिक एवं मोतीपुर मेडिकल कालेज वाला न हो- सुरेंद्र

🔊 Listen This News समस्तीपुर 6 नवंबर 2019 जिले के सरायरंजन के नरघोधी में बुधवार को राम जानकी कार्यक्रम को लेकर आइसा- इनौस ने शहर के मालगोदाम चौक से एक चेतावनी मार्च निकला जो बाजार क्षेत्र का भ्रमण कर पुनः मालगोदाम चौक पर सभा में तब्दील हो गया। सभा की अध्यक्षता इनौस जिलाध्यक्ष राम कुमार […]

 154 total views,  1 views today

समस्तीपुर 6 नवंबर 2019 जिले के सरायरंजन के नरघोधी में बुधवार को राम

जानकी कार्यक्रम को लेकर आइसा- इनौस ने शहर के मालगोदाम चौक से एक चेतावनी मार्च निकला जो बाजार क्षेत्र का भ्रमण कर पुनः मालगोदाम चौक पर सभा में तब्दील हो गया। सभा की अध्यक्षता इनौस जिलाध्यक्ष राम कुमार ने की तथा सभा को संबोधित कृष्ण कुमार, प्रवीण कुमार,मो० ऐजाज,अरशद कमाल बबलू, मो० परवेज, मो० अशरफ जमाल, संजय गिरी, शंकर सिंह,मो० अलाउद्दीन, मनोज साह ने की।


सभा को संबोधित करते हुए भाकपा माले नेता सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि नीतीश- मोदी सरकार इस कालेज का निर्माण युद्ध स्तर पर कराए। उन्होंने याद दिलाया है कि बड़े तामझाम से 1988 के आसपास ताजपुर के मोतीपुर छठिआरी पोखर पर स्वीस बैंक के सहयोग से 2 सौ बेड के अस्पताल का शिलान्यास किया गया था

लेकिन आज तक नहीं बना।यह जिला का दुर्भाग्य है। सरायरंजन के ही गंगापुर के अलता चौर में तत्कालीन केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान द्वारा पोलिटेकनिक कालेज का शिलान्यास किया गया था। इसका भी आजतक अतापता भी नहीं है। मौके पर आइसा के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि संगठनद्वय लंबे समय से जिले में मेडिकल कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज आदि की मांग को लेकर संघर्ष चलाता रहा है। इसे लगातार मीडिया ने भी प्रमुखता से जगह दिया है। धारावाहिक संघर्ष से बने वातावरण के कारण ही आज जिले में मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास संभव हो पाया है। उन्होंने कहा है कि जिले में इंजीनियरिंग कालेज, कृषि आधारित उद्योग-धंधे,बंद पड़े चीनी मिल,पेपर मिल जूट मिल को चालू करने को लेकर संघर्ष तेज किया जाएगा।इससे समस्तीपुर जैसे पिछड़े जिले में खुशहाली लौटेगी। लोगों को रोजगार मिलेगा। पर कैपिटा आमदनी बढ़ेगी।

 155 total views,  2 views today